BANGALORE

करियर में दो बार राष्ट्रीय पुरस्कार हासिल करना किसी ‘‘वरदान’’ से कम नहीं : धनुष – achieving national award twice in a career is no less than a “boon”

चेन्नई, 23 मार्च (भाषा) फिल्म ‘असुरन’ के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार जीतने वाले, दक्षिण भारतीय फिल्मों के अभिनेता धनुष ने मंगलवार को शुभकामनाओं के लिए अपने प्रशंसकों का शुक्रिया अदा किया और कहा कि अपने करियर में शीर्ष पुरस्कार दो बार हासिल करना किसी ‘‘वरदान’’ से कम नहीं है।

धनुष को सोमवार को घोषित किए गए 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में फिल्म ‘असुरन’ में शानदार अभिनय के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार दिया गया है।

इससे पहले अभिनेता (37) को 2011 में फिल्म ‘आदुकलम’ के लिए यह सम्मान मिला था।

धनुष ने ट्विटर पर एक बयान में कहा कि अपने करियर में लगभग दो दशक के भीतर मिलने वाले इस प्यार और प्रशंसा से वह अभिभूत हैं।

उन्होंने लिखा, ‘‘ मुझे आज सुबह उठते ही यह बेहतरीन खबर मिली कि, मुझे ‘असुरन’ के लिए प्रतिष्ठित राष्ट्रीय पुरस्कार मिला है। सर्वश्रेष्ठ अभिनेता की श्रेणी में पुरस्कार हासिल करना एक सपने जैसा है और दो बार इसे जीतना किसी वरदान से कम नहीं है। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं इतना लंबा सफर तय कर पाऊंगा।’’

अभिनेता ने अपने प्रशंसकों को शुभकामनाओं के लिए शुक्रिया अदा किया और उन्हें अपनी ताकत का जरिया बताया।

धनुष के अलावा अभिनेता मनोज बाजपेयी को भी फिल्म ‘भोंसले’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता की श्रेणी में राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया है।

Related Articles
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: