Advertisment
DELHI

लैंडफिल साइटों पर नहीं कम हो रहा है कूड़े का ढेर: आप – aap blaimed bjp for not doing any work on landfill site

Advertisment

विशेष संवाददाता, नई दिल्ली
आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की तीनों लैंडफिल साइटों पर कूड़े के निपटान को लेकर बीजेपी शासित एमसीडी के खिलाफ हमला बोला है। पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने मंगलवार को बयान जारी करते हुए कहा कि एमसीडी ने दिल्ली सरकार को रिपोर्ट दी है कि वे 2022 में कूड़े के ढेर हटाने के लिए ट्रीटमेंट प्लांट बना रहे हैं। इस दौरान न तो कूड़े की डंपिंग बंद होगी और न ही किसी भी लैंडफिल साइट की ऊंचाई कम होगी। उन्होंने कहा कि बीजेपी के नेता बड़े-बड़े दावे करते हैं कि लैंडफिल साइट पर इतना कूड़ा कम किया, लेकिन इनकी खुद की रिपोर्ट उनके दावों को गलत साबित कर रही है।

उन्होंने कहा कि बीजेपी की रिपोर्ट कहती है कि पूर्वी एमसीडी में रोजाना 2800 मीट्रिक टन कूड़ा निकलता है, लेकिन इसमें से केवल 1300 मीट्रिक टन कूड़ा गाजीपुर लैंडफिल साइट पर ट्रीट किया जाता है। उत्तरी दिल्ली से रोज 4000 मीट्रिक टन कूड़ा पैदा होता है। इसमें से केवल 2000 मीट्रिक टन कूड़ा भलस्वा लैंडफिल साइट पर ट्रीट किया जाता है। दक्षिणी दिल्ली से रोज 3600 मीट्रिक टन कूड़ा निकलता है, इसमें से केवल 1600 मीट्रिक टन कूड़ा ओखला लैंडफिल साइट पर ट्रीट किया जाता है। इसके अलावा बचा हुआ सारा कूड़ा लैंडफिल साइट पर ही छोड़ दिया जाता है। ऐसे में अगर कूड़ा कम ही नहीं हो रहा है तो बीजेपी के नेता और महापौर किस बात के दावे कर रहे हैं?

दुर्गेश पाठक ने कहा कि दिल्ली में अगले दो सालों तक गंदगी और कूड़े के ढेर से छुटकारा नहीं मिलने वाला है। एमसीडी ने दिल्ली सरकार को रिपोर्ट दी है कि वे 2022 में कूड़े के ढेर हटाने के लिए ट्रीटमेंट प्लांट बना रहे हैं। एमसीडी का कहना है कि इस नए ट्रीटमेंट प्लांट की मदद से न तो लैंडफिल साइट पर कूड़ा जाएगा और न ही उनकी ऊंचाई बढ़ेगी। बीजेपी ने इस पर एक विस्तृत रिपोर्ट भी दी है, लेकिन बीजेपी की यह रिपोर्ट उन्हीं पर उल्टी पड़ गई है। दरअसल इस प्लांट को बनाने के दौरान न तो कूड़े की डंपिंग बंद होगी और न ही किसी भी लैंडफिल साइट की ऊंचाई कम होगी। ऐसे में सभी लैंडफिल साइटों पर कूड़े का ढेर बढ़ता ही चला जाएगा।

तीनों लैंडफिल साइट्स पर लगी हैं मशीनें: बीजेपी
लैंडफिल साइट्स पर कूड़े के पहाड़ को लेकर आम आदमी पार्टी के एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने मंगलवार को जो आरोप लगाया, उस पर दिल्ली बीजेपी प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने प्रतिक्रिया दी है। उनका कहना है कि पाठक का आरोप बेबुनियाद और लोगों को भ्रमित करने वाला है। लैंडफिल साइट्स की ऊंचाई कम करने के लिए ओखला, भलस्वा और गाजीपुर तीनों लैंडफिल साइट्स पर प्रर्याप्त संख्या में ट्रॉमेल मशीन लगाई गई हैं। इसके अलावा लैंडफिल साइट पर 2022 तक कूड़ा न जाए, इसके लिए नए ट्रीटमेंट प्लांट लगाने पर काम किया जा रहा है। लैंडफिल साइट्स पर रोजाना जितना कूड़ा जा रहा है, उसमें 55 प्रतिशत कूड़े का रोजाना निस्तारण होता है।

Advertisment
Show More
Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisment