Advertisment
CHINA

हिन्दी है चीनी छात्रों की सफलता का टिकट – Hindi is ticket to success for Chinese students

Advertisment

इन्टरप्रेनरशिप डिवेलपमेंट इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के विशाल कैंपस में एक चीनी छात्रों का एक समूह अपनी पुस्तकों में झांकता है। एक टीचर ब्लैकबोर्ड पर वाक्य लिखता है लेकिन क्लासरूम की एक दिलचस्प खासियत है। शिक्षक इन्टरप्रेनरशिप पर सबक नहीं दे रहा है लेकिन देवनागरी लिपि की बारीकियों पर सबक दे रहा है ।

भारत और चीन के बीच द्विपक्षीय व्यापार पिछले वर्ष 70 खरब डालर के के आसपास पहुंचने के साथ ड्रेगन की धरती पर हिन्दी भाषा में रूचि भी बढ़ी है।

युन्नान प्रांत में चीन के परिवहन केंद्र कुनमिंग से 21 वर्षीय बाओ या पिंग, वर्तमान में भारत (ईडीआई) के संस्थान में एक 13 सदस्यीय बैच का हिस्सा हैं और इन्टरप्रेनरशिप डिवेलपमेंट पर हिंदी एडवांस बिजनेस से नौ महीने की अंर्तराष्ट्रीय सर्टिफिकेट का कोर्स कर रही हैं।

उन्होंने कहा, ‘द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के लिए काम कर रहे दो एशियाई दिग्गजों ने हमारे लिए भारत में नए अवसरों को खोल दिया है। इस प्रकार, एक अच्छी नौकरी हासिल करने के लिए हिंदी में प्रवाह एक निर्धारित कारक बन गया है।

Advertisment
Show More
Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisment
Back to top button
%d bloggers like this: