Advertisment
MUMBAI

antilia case innova car: Antilia case News Today: NIA seized Innova car belongs to Mumbai Police Crime Branch: एंटीलिया केस में चौंकाने वाला खुलासा, NIA की जब्त हुई इनोवा कार मुंबई पुलिस की निकली

Advertisment

हाइलाइट्स:

  • एंटीलिया केस में खुलासा, NIA ने जब्त की कार इनोवा कार, मुंबई क्राइम ब्रांच की निकली गाड़ी
  • पूछताछ के लिए क्राइम ब्रांच से बुलाए गए 4 लोग, दो ड्राइवर और दो अधिकारियों को बुलाया गया
  • बीती रात को एनआईए ने जब्त की थी इनोवा कार, सीसीटीवी फुटेज में स्कॉर्पियो के पीछे थी कार

मुंबई
मुंबई के एंटीलिया केस में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। एनआईए ने जिस सफेद रंग की इनोवा कार को बरामद किया है वह मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच की निकली। एनआईए ने शनिवार-रविवार रात को इनोवा कार को बरामद किया था। इसके बाद यह एनआईए दफ्तर में रखी गई थी। हालांकि अभी स्पष्ट नहीं है कि यह वही इनोवा कार है जो विस्फोटक से भरी स्कॉर्पियो एसयूवी का पीछा कर रही थी। उधर, मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वझे को पेशी के लिए NIA कोर्ट ले जाया गया है।

मुंबई पुलिस के अधिकारी ने बताया, ‘एनआईए ने जो इनोवा कार बरामद की है वह मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच की है। क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट (CIU) के 4 सदस्यों को एनआईए ने पूछताछ के लिए भी बुलाया है। इसमें दो ड्राइवर और दो अधिकारी हैं। वे जांच में शामिल होने गए हैं।’

पढ़ें: एनकाउंटर स्‍पेशलिस्‍ट से सस्‍पेंशन तक, 16 साल बाद बहाल होते ही हाई प्रोफाइल केसेज का जिम्‍मा, सचिन वझे की पूरी हिस्‍ट्री

सीसीटीवी फुटेज में दिखी थीं दो कारें
एनआईए सूत्रों के मुताबिक, बीती रात जिस इनोवा कार को जब्त किया गया था वह वही गाड़ी है सीसीटीवी फुटेज में दिखाई दी थी। दरअसल 25 फरवरी की घटना के सीसीटीवी फुटेज में दो कारें दिखी थीं- एक स्कॉर्पियो और दूसरी इनोवा। ड्राइवर स्कॉर्पियो को छोड़कर इनोवा कार में बैठकर फरार हो गया था।

मुंबई पुलिस की अपराध शाखा की है कार
अब बताया जा रहा है कि इनोवा कार मुंबई पुलिस की अपराध शाखा की थी। फिलहाल इस केस में मुंबई पुलिस के एक और अधिकारी रियाज काजी से पूछताछ हो रही है। इससे पहले एनआईए ने मुंबई पुलिस अधिकारी सचिन वझे को गिरफ्तार किया था जो शुरुआत में इस केस की जांच कर रहे थे।

स्कॉर्पियो के पीछे-पीछे चल रही थी इनोवा
सूत्रों के मुताबिक, 25 फरवरी की घटना में दो कारें शामिल थीं। स्कॉर्पियो में जिलेटिन की छड़े रखी गई थीं जिसके मालिक मनसुख हिरेन थे जबकि दूसरी कार इनोवा थी जो स्कॉर्पियो के पीछे-पीछे चल रही थी।

NIA दफ्तर लाई गई इनोवा का यह है नंबर
25 फरवरी को विस्फोटक से भरी स्कॉर्पियो एसयूवी दक्षिण मुंबई स्थित मुकेश अंबानी के घर के नजदीक खड़ी की गई थी। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि इनोवा पर ताड़देव आरटीओ का पंजीकरण नंबर ‘एमएच 01 जेड ए 403’ है और गाड़ी के पिछली विंडशील्ड पर ‘पुलिस’ लिखा है। इसे एक वैन की मदद से पेडर रोड स्थित एनआईए के दफ्तर लाया गया था।

सचिन वझे से 13 घंटे पूछताछ
एनआईए ने मुकेश अंबानी के घर के पास से विस्फोटक से लदी स्कॉर्पियो मिलने के मामले में 13 घंटे की पूछताछ के बाद शनिवार देर रात सचिन वझे को गिरफ्तार किया। स्कॉर्पियो अंबानी के घर के पास कारमाइकल रोड पर 25 फरवरी को खड़ी मिली थी। इस वाहन में जिलेटिन की कुछ छड़ें और एक धमकी भरा पत्र मिला था। वझे एनकाउंटर स्पेशलिस्ट हैं।

Advertisment

हिरेन की मौत की जांच कर रही एटीएस
वह ठाणे के कारोबारी मनसुख हिरेन की हत्या के मामले में आरोपों का सामना कर रहे हैं। उक्त स्कॉर्पियो हिरेन के पास थी। हिरेन 5 मार्च को ठाणे जिले में मृत पाए गए थे। महाराष्ट्र एटीएस हिरेन हत्या मामले की जांच कर रहा है। हिरेन का शव मिलने के कुछ दिन बाद एटीएस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। हिरेन की पत्नी ने पति की रहस्मय परिस्थितियों में मौत के मामले में सचिन वझे के शामिल होने का आरोप लगाया है।

Related Articles
एनआईए ने सीज की इनोवा कार

एनआईए ने सीज की इनोवा कार

Advertisment
Show More
Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisment