Advertisment
UK

Cambridge University: कैंब्रिज यूनिवर्सिटी में एग्जाम के बाद मनाया जाता है ऐसा जश्न – cambridge university celebrates may ball after exams

Advertisment

क्या आपने कभी ऐसा नजारा देख है कि एग्जाम के बाद किसी स्कूल में कोई उत्सव मनाया जाए। सभी स्टूडेंट्स मिलकर नदी में नहाएं, तो कोई नाव की सैर कर खुशियों का इजहार करे। इंग्लैंड की कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट कुछ इसी तरह से अपने एग्जाम के बाद ‘मे बॉल’ उत्सव मनाते हैं और उसे जमकर सेलिब्रेट करते हैं। यह कार्यक्रम बेहद खास होता है, जिसमें देश के प्रसिद्ध विचारक और राजनेता भी शिरकत करते हैं।

कैंब्रिज यूनिवर्सिटी से संबद्ध सभी कॉलेजों के स्टूडेंट एग्जाम होने के बाद ‘मे बॉल’ उत्सव मनाते हैं। इस तरह से वह अपने एग्जाम खत्म होने के बाद अनोखे ढंग से खुशी का इजहार करते हैं। इतना ही नहीं, इसमें सभी छात्र सूट-बूट में आते हैं, तो छात्राएं पसंदीदा लॉन्ग ड्रेसेज पहनकर शिरकत करती हैं। जश्न में स्टूडेंट शैंपेन की बोतल लेकर सड़कों पर घूमने लगते हैं। इसके बाद नदियों में नहाने निकल पड़ते हैं और नाव की सैर भी करते हैं। एक दूसरे से लड़के-लड़कियां यहां एग्जाम के बाद खुलकर प्रेम का इजहार भी करते हैं। इसके बाद सभी अपने घर चले जाते हैं। इस उत्सव में देश के जाने माने विचारक और राजनेता भी शिरकत करने पहुंचते हैं क्योंकि यह मशहूर सेलिब्रेशन काफी बड़े पैमाने पर होता है।

यह कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के कैलेंडर वर्ष का सबसे बड़ा इवेंट होता है, जो एग्जाम के बाद जून में सेलिब्रेट किया जाता है। इसके द्वारा युवाओं को घूमने फिरने का मौका मिलता है। सेलिब्रेशन के दौरान लड़कियां अपने सैंडल उतारकर घूमती हैं तो वहीं युवा छात्र अपनी टाई और शर्ट को उतारकर नदी में छलांग लगाकर खूब इंजॉय करते हैं। सबकुछ भूलकर जश्न में इस कदर डूबते हैं कि कई बार आपा भी खो बैठते हैं और सड़कों पर लेटकर जश्न मनाते हैं। पहली बार इस उत्सव को सन 1838 में मनाया गया था। इसमें डिनर के दौरान 38 लोगों के बीच 47 बोतल शैंपेन, 12 शैरी, 6 मॉसल, 2 क्लॉरेट, 6 क्वार्ट्र हेल पीने की स्पर्धा हुई थी। सन 1910 में किंग एडवर्ड सिक्स की मौत और 1935-45 के बीच दूसरे विश्व युद्ध के कारण इसका आयोजन नहीं किया गया। ट्रिनिटी में बॉल का आयोजन मई के पहले सप्ताह में आयोजित किया जाता है। शीर्षक में मई के बावजूद यह हमेशा एग्जाम के बाद जून में मनाया जाता है।

Advertisment
Show More
Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisment
Back to top button
%d bloggers like this: