UTTAR PRADESH

crime in Noida: Noida news: भारतीय खेल प्राधिकरण के GM को कार में बंधक बनाकर लूटा, ATM का पिन न बताने पर पेचकस और हथौड़े से किए वार – loot from sports authority of india general manager in noida

नोएडा
नोएडा में लूटपाट की घटनाओं में अचानक तेजी आ गई है। पिछले 3 दिनों में अलग-अलग जगहों लूट की 6 वारदात हो चुकी हैं। सोमवार को भारतीय खेल प्राधिकरण के जीएम को हेरिटेज क्लब के पास से कार सवार 3 बदमाशों ने लिफ्ट देने के बहाने बंधक बना लिया और लूटपाट की। बदमाशों ने उनकी आंखों पर पट्टी बांधकर ढाई घंटे तक सड़कों पर घुमाया।

एटीएम का पिन नहीं बताने पर पेचकस व हथौड़ी से उन पर वार किए। इस दौरान मुस्तैद रहने का दावा करने वाली पुलिस को कोई भनक तक नहीं लगी। वहीं, घटना के बाद सूरजपुर व बीटा-2 थाने की पुलिस सीमा विवाद में उलझी रही। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद मामला बीटा-2 में दर्ज किया गया।

बस का कर रहे थे इंतजार
सेक्टर डेल्टा-1 में धर्मपाल शर्मा परिवार के साथ रहते हैं। वह भारतीय खेल प्राधिकरण में जीएम हैं। उनके परिवार वालों ने बताया कि धर्मपाल शर्मा सोमवार को दिल्ली आईटीओ स्थित अपने ऑफिस के लिए घर से निकले थे। हेरिटेज गोल चक्कर के पास बस के इंतजार में खड़े थे। इसी बीच एक कैब उनके पास आकर रुकी। कैब में पहले से तीन लोग सवार थे। कैब चालक ने दिल्ली जाने के लिए उन्हें बैठा लिया। कैब के कुछ दूर चलते ही उसमें सवार लोगों ने जीएम को बंधक बना लिया और आंखों पर पट्टी बांध दी।

एटीएम से निकाले कार्ड
बदमाशों ने लूटपाट शुरू कर दी। पीड़ित की जेब में रखें साढ़े तीन हजार रुपये, मोबाइल, घड़ी और एटीएम कार्ड लूट लिया। बदमाशों ने पीड़ित से एटीएम कार्ड का पिन पूछा। पिन नंबर नहीं बताने पर लुटेरों ने पेचकस और हथौड़ी से बुरी तरह पीटा। करीब ढाई घंटे तक लुटेरे पीड़ित को कार में बंधक बनाकर शहर की सड़कों पर घुमाते रहे। लुटेरों ने उनका कार्ड छीनकर एक एटीएम बूथ में जाकर पैसे भी निकाले।

सीमा विवाद में उलझी रही पुलिस
बेखौफ लुटेरे जीएम को शहर की सड़कों पर इधर-उधर घुमाते रहे। इसके बाद बदमाश पीड़ित को 130 मीटर रोड पर फेंक कर फरार हो गए। जीएम ने घटना के बाद मामले की शिकायत पुलिस से की। इसके बाद बीटा-2 और सूरजपुर कोतवाली पुलिस सीमा विवाद में उलझी रही। पुलिस के सीनियर अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद मंगलवार की सुबह 24 घंटे बाद बीटा-2 कोतवाली पुलिस ने पीड़ित की तहरीर पर लूट का मुकदमा दर्ज किया।

पुलिस चौकी से चंद दूरी पर लिफ्ट देते हैं बदमाश
परी चौक के पास पुलिस चौकी है और हेरिटेज गोल चक्कर पर अक्सर पुलिस की पीवीआर खड़ी रहती है। पुलिस से चंद दूरी पर बसों के इंतजार में खड़े लोगों को बदमाश कैब में लिफ्ट देकर वारदात करते हैं। उन्हें बंधक बनाकर शहर में घूम आते हैं। यहां तक की उनका एटीएम कार्ड लेकर शहर के विभिन्न एटीएम मशीन से रुपए भी निकालते हैं। लेकिन हर समय चौकन्ना रहने का दावा करने वाली पुलिस को बदमाशों की भनक तक नहीं लगती। वह बेखौफ लोगों को बंधक बनाकर शहर में घूमते रहते हैं।

परी चौक के आसपास बढ़ रही वारदात

-20 मार्च को परी चौक के पास यमुना एक्सप्रेसवे के जीरो पॉइंट से आगरा के लिए लिफ्ट देकर कार सवार बदमाशों ने सुल्तानपुर निवासी शंभू नाथ चौधरी को लूट लिया था।
-13 मार्च को परी चौक पर लिफ्ट देने के बहाने बरेली के रहने वाले अशोक मौर्य से चाकू की नोंक पर बदमाशों ने 10 हजार रुपए लूट लिए थे। विरोध करने पर चलती गाड़ी से धक्का दे दिया था।
-29 फरवरी को परी चौक के पास से लिफ्ट देने के बहाने कार सवार तीन बदमाशों ने दिल्ली निवासी समालुद्दीन से चाकू की नोंक पर बदमाशों ने 4 हजार नकद, मोबाइल फोन, डेबिट कार्ड सहित अन्य सामान लूट लिया।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: