DELHI

Delhi Coronavirus Live News Updates: Delhi Suffering From Covid Wave Again, But Complacency Is Constant At Public Places – दिल्ली में कोरोना की चौथी लहर को कोई नहीं रोक सकता, ये तस्‍वीरें देखिए

देश की राजधानी में कोरोना की ताजा लहर का असर देखने को मिल रहा है। रविवार को 823 नए मामलों को पता चला। यह लगातार दूसरा दिन रहा जब दिल्‍ली में पॉजिटिविटी रेट 1% से ज्‍यादा दर्ज किया गया। नए मामलों में गिरावट देखने के बाद, पिछले 15 दिनों के भीतर दिल्‍ली में कोविड ने फिर जोर पकड़ा है। 15 मार्च से 21 मार्च के बीच, कुल 4,288 मामले सामने आए और 15 मरीजों की मौत हुई। दिल्‍ली में लोगों की लापरवाही देखकर लगता ही नहीं कि उन्‍हें कोरोना का कोई डर है। बाजारों में खूब भीड़ उमड़ रही है और लोग मास्‍क और सोशल डिस्‍टेंसिंग जैसी बेसिक बातों को भी नजरअंदाज कर रहे हैं।

दिल्‍ली में डरा रही कोरोना की ये रफ्तार

मार्च में अबतक 8,695 मामले दर्ज किए जा चुके हैं यानी 414 केस प्रतिदिन। फरवरी में हर हफ्ते डेली 150 केस आ रहे थे। पिछले हफ्ते डेली केसेज का औसत 612 रहा है। यह दिखाता है कि दिल्‍ली में कोविड के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐक्टिव केसेज की संख्‍या 3,618 तक पहुंच गई है जो 21 फरवरी को 1,071 थी। यानी पिछले चार हफ्तों में यह आंकड़ा तीन गुना तक बढ़ा गया है।

ऐसे तो रोके न रुकेगा दिल्‍ली में कोरोना

ऊपर की तस्‍वीर रविवार को लाजपत नगर में ली गई। सोशल डिस्‍टेंसिंग तो भूल ही जाइए, लोग मास्‍क तक नहीं लगा रहे हैं। यहां की पुष्‍पा मार्केट में तो इतनी भीड़ थी कि बिना कंधे से कंधे टकराए चल पाना नामुमकिन था।

मास्‍क लगाया तो है न…

ऐसे मास्‍क लगाने से तो न लगाना ही ठीक है। एक्‍सपर्ट्स के मुताबिक, मास्‍क आपकी नाक और मुंह को कवर करना चाहिए। मास्‍क को टोपी या चिन कवर की तरह यूज करेंगे तो कोरोना से कुछ बचाव नहीं होगा। टाइम्‍स ऑफ इंडिया के फोटोग्राफर को लाजपत नगर में ऐसा नजारा दिखा।

अपने साथ-साथ परिवार को भी खतरे में डाल रहे लोग

तस्‍वीर कनॉट प्‍लेस की है। यहां संडे को खूब भीड़ उमड़ी। लोग फैमिली के साथ घूमने आए मगर मास्‍क शायद घर पर ही भूल गए। लापरवाही इस कदर है कि लोग परिवार को भी खतरे में डालने से घबरा नहीं रहे। अगर ऐसी ही किसी भीड़ वाली जगह पर आपको इन्‍फेक्‍शन हुआ तो कोरोना को घर पहुंचने में देर नहीं लगेगी।

खुद से सावधान रहना है जरूरी

दिल्‍ली में मास्‍क न पहनने पर चालान होता है मगर जब लोग ऐसी लापरवाही करेंगे तो कैसे चलेगा। कोरोना को रोकने के लिए मास्‍क और सोशल डिस्‍टेंसिंग बहुत बेसिक सावधानियां हैं मगर लोग हैं कि उनपर असर ही नहीं दिख रहा।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: