Advertisment
UK

fellowship for indian students: UK में पढ़ने के लिए इंडियन स्टूडेंट्स ले सकते हैं ये स्कॉलरशिप्स – scholarship for indian students to study in united kingdom

Advertisment

यूनाइटेड किंगडम में दुनिया के कुछ बेहद प्रसिद्ध यूनिवर्सिटीज और कॉलेज मौजूद हैं। ऐसे में यहां पढ़ने का सपना कई स्टूडेंट्स देखते हैं। हालांकि, यहां रहने व पढ़ने का खर्चा दूसरे देशों के मुकाबले थोड़ा ज्यादा हो सकता है। इस स्थिति में स्कॉलरशिप काफी मदद कर सकती है।

यूनाइटेड किंगडम अपने देश में आने वाले स्टूडेंट्स को अलग-अलग तरह की स्कॉलरशिप ऑफर करता है, जिसके लिए ही अलग-अलग क्राइटेरिया तय है। सबसे अहम स्टूडेंट्स के नंबर होते हैं, जिसके बाद इंटरव्यू, थीसेस आदि का सिलसिला शुरू होता है। एक्सपर्ट्स सलाह देते हैं कि स्कॉलरशिप लेने का इरादा हो तो इसके लिए 8 से 10 महीने पहले से तैयारी करना और प्रोसेस शुरू कर देना चाहिए।

चिवनिंग स्कॉलरशिप (Chevening Scholarship)
किसी प्रफेशन में एक्सपीरिंयस लेने के बाद अगर आपका यूके पढ़ने जाने का इरादा है तो चिवनिंग स्कॉलरशिप काम आ सकती है। इस स्कॉलरशिप के तहत ऐसे टैलंटेड प्रफेशनल्स को मौका दिया जाता है जिन्होंने अपनी फील्ड में शानदार परफॉर्म किया हो और जिसमें लीडरशिप स्किल्स दिखाई देती हो। इसके लिए सिलेक्शन हाई कमिशन और ब्रिटिश एंबेसी के जरिए होती है।

कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप ऐंड फैलोशिप (Commonwealth Scholarship and Fellowship)
यूके का कॉमनवेल्थ स्कॉलरशिप ऐंड फैलोशिप कमिशन कॉमनवेल्थ देशों के स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप देते हैं। ऐसे स्टूडेंट्स जो यूके में मास्टर्स डिग्री या फिर पीएचडी करना चाहते हैं वह इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं।

ग्रेट स्कॉलरशिप (GREAT Scholarship)
ब्रिटिश काउंसिल द्वारा दी जाने वाली यह ट्यूशन स्कॉलरशिप उन होनहार छात्रों को दी जाती है जो ग्रैजुएट और अंडर ग्रैजुएट प्रोग्राम्स के लिए अप्लाई करना चाहते हैं। इस स्कॉलरशिप को पाने वाले छात्रों को बाद में ‘स्टडी इन द यूके’ कैंपेन का ऐंबैसडर बनाया जाता है।

गोवा ऐजुकेशन ट्रस्ट स्कॉलरशिप (Goa Education Trust Scholarships)
ब्रिटिश काउंसिल के सहयोग से, यह स्कॉलरशिप 30 वर्ष से कम आयु के उन छात्रों को दी जाती है जो यूके में एक वर्षीय मास्टर डिग्री के लिए आवेदन करना चाहते हैं।

आपको फुल पेड स्कॉलरशिप मिलती है या फिर पार्शियल यह कई तरह के फैक्टर्स पर निर्भर करता है। जैसे आपके मार्क्स, कोर्स, जिस इंस्टिट्यूशन के लिए अप्लाई कर रहे हैं वहां के रूल्स आदि। किसी भी डिग्री के लिए अप्लाई करने से पहले उसके क्राइटेरिया के बारे में जरूर पढ़ लें, नहीं तो बाद में आपको मुश्किल होगी।

Advertisment

Related Articles
Advertisment
Show More
Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisment
Back to top button
%d bloggers like this: