Advertisment
US

gre eligibility criteria: विदेश में पढ़ने के लिए देना होता है GRE टेस्ट, जानें डीटेल में – know all about gre test eligibility criteria score etc

Advertisment

जीआरई टेस्ट एक अंतरराष्ट्रीय टेस्ट है जिसका आयोजन एजुकेशनल टेस्टिंग सर्विसेज (ईटीएस) नाम की संस्था द्वारा कराया जाता है। इसके आधार पर कई देशों खासतौर पर संयुक्त राज्य अमेरिका में ग्रैजुएट स्कूलों या बिजनस ग्रैजुएट स्कूलों में दाखिला मिलता है। दुनिया भर में करीब 700 केंद्रों पर इस टेस्ट का आयोजन होता है।

योग्यता (GRE Test Eligibility): जीआरई टेस्ट में बैठने के लिए कोई खास शर्त नहीं है। किसी भी उम्र और शैक्षिक योग्यता वाला व्यक्ति इसके लिए आवेदन कर सकता है। टेस्ट क्लियर करने के बाद जिस संस्थान में आप दाखिले के लिए आवेदन करेंगे, वहां की शैक्षिक और आयु संबंधित शर्तों को पूरा करना होगा।

पैटर्न (GRE Test Pattern): पेपर 3 घंटे 40 मिनट का होता है। पेपर में कुल छह सेक्शंस होते हैं और तीसरे सेक्शन की परीक्षा के बाद 10 मिनट का ब्रेक दिया जाता है। आमतौर पर जीआरई के लिए कंप्यूटर आधारित टेस्ट होता है लेकिन कुछ परीक्षा केंद्रों पर पेपर और पेन मोड में भी आप टेस्ट दे सकते हैं।

सिलेबस (GRE Test Syllabus): जीआरई को दो फॉर्मेट होते हैं। एक सामान्य टेस्ट होता है जबकि दूसरा खास विषयों का टेस्ट होता है। सिलेबस दोनों फॉर्मेट के लिए अलग-अलग होता है। जीआरई के सामान्य यानी जनरल टेस्ट में verbal reasoning, quantitative reasoning, critical thinking और analytical writing skills। जीआरई के सब्जेक्ट टेस्ट में किसी खास फील्ड्स में कैंडिडेट की दक्षता का आकलन किया जाता है।

परीक्षा की तारीख (GRE Test Dates): कंप्यूटर आधारित जीआरई टेस्ट का आयोजन साल भर होता रहता है। कोई भी कैंडिडेट हर 21 दिनों पर जीआरई टेस्ट दे सकता है और साल में पांच बार। किसी खास तारीख को अगर आप परीक्षा देना चाहते हैं तो उसके लिए रजिस्ट्रेशन कराने के मकसद से आपको अपना ‘जीआरई अकाउंट’ बनाना होता है।

पंजीकरण (GRE Registration)
रजिस्ट्रेशन के लिए कैंडिडेट्स को पहले ‘My GRE Account’ बनाना होता है। चार तरीके से जीआरई जनरल टेस्ट का रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। वे चार तरीके ऑनलाइन, फोन, मेल और फैक्स से रजिस्ट्रेशन होता है। जीआरई सब्जेक्ट टेस्ट के लिए सिर्फ दो तरीके ऑनलाइन और मेल से रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है।

स्कोर (GRE Score): टेस्ट के 101-5 दिनों के बाद ऑफिशल स्कोर मेल किया जाता है। जीआरई स्कोर 5 सालों तक वैध होते हैं। अपनी परीक्षा की तारीख से 3 महीने बाद दोबारा स्कोर भेजने का आग्रह कर सकते हैं।

वेबसाइट:www.ets.org/gre

Advertisment

Related Articles

Advertisment
Show More
Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisment
Back to top button
%d bloggers like this: