GORAKHPUR

jail warden recruitment news: warden bharti daud mein ek yuvak ki maut aur ek gambheer: वार्डन भर्ती दौड़ में एक युवक की मौत और एक गंभीर

गोरखपुर
यूपी के गोरखपुर में 26वीं पीएसी मैदान में जेल वार्डन की भर्ती के लिए दौड़ रहे एक अभ्यर्थी की मौत हो गई है। वहीं, एक की हाल गंभीर है। मालूम हो कि गोरखपुर के पीएसी ग्राउंड में जेल वार्डन भर्ती परीक्षा चल रही है। इसी कड़ी में सोमवार को घुड़सवार पुलिस और फायर सिपाही की भर्ती चल रही थी। दौड़ के लिए कुल 500 अभ्यर्थी आए थे।

4.8 किलोमीटर की दौड़ पास करने के लिए एक सर्किल का 12 चक्कर लगाना था। इसी दौरान पीपीगंज थाना अंतर्गत भगवानपुर के रहने वाले अभ्यर्थी गणेश 11वें चक्कर में गश खाकर मैदान पर गिर पड़े। उन्हें तुरंत जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वहीं, एक अन्य युवक भी दौड़ के दौरान गश खाकर गिर पड़ा था। जिसका इलाज अस्पताल में चल रहा है। जहां हालत गंभीर बताई जा रही है।

1

सूचना पर गणेश निषाद के परिवार वाले अस्पताल पहुंच गए। मौत की जानकारी मिलते ही पूरा परिवार सदमे में आ गया और दहाड़े मारकर रोने भी लिखने लगा। यह मंजर देख कर वहां उपस्थित सभी का दिल भर आया

आईटीआई कर रहे थे गणेश
भगवानपुर के बलवा गांव निवासी गणेश निषाद पांच बहनों और दो भाइयों में सबसे बड़े थे। उसके ऊपर पूरे परिवार की जिम्मेदारी का बोझ था पिता गौरी शंकर एक किसान हैं। गणेश ने स्नातक तक की पढ़ाई पूरी करने के बाद पीपीगंज में ही आईटीआई कर रहे थे। साथ ही पुलिस भर्ती की तैयारी में लगे थे। गणेश की मौत से जहां परिवार में कोहराम मचा है को वहीं गांव के लोगों में भी मातम छाया हुआ है।

मौके पर मौजूद था छोटा भाई
गणेश के छोटे भाई मोहन का कहना है कि मैं उसके साथ मैदान पर ही मौजूद था। उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंचा तो उम्मीद जगी कि भाई की सांसे लौट आएंगी। लेकिन जब पता चला कि भाई इस दुनिया में नहीं रहा तो मेरे सब्र का बांध टूट गया। मोहन को यकीन ही नहीं हो रहा है कि भाई की मौत हो गई। अभी भी मोर्चरी की खिड़की पर सर पटक-पटक कर वह बार-बार यही कह रहा है कि अब किसके साथ घूमूंगा, खेलूंगा और ठिठोली करूंगा।

मौत की सूचना पर एसपी सिटी, सीओ कोतवाली और सीओ ट्रैफिक जिला अस्पताल पहुंचे। डॉक्टर ने बताया कि अस्पताल आने से पहले ही गणेश निषाद की मौत हो चुकी थी। डॉक्टर का कहना है कि मौत की वजह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही सामने आएगी।

10वें चक्कर में एक अन्य अभ्यर्थी भी गिरा था
वहीं, कमांडेंट पीएससी नोडल अधिकारी दौड़ परीक्षा परीक्षा ने बताया कि परीक्षा के दौरान डॉक्टरों की पूरी टीम मौजूद रहती है, तुरंत युवक को अस्पताल पहुंचाया गया। लेकिन दुर्भाग्यवश उसकी मौत हो गई। दौड़ के दौरान एक और युवक रजनीश चौधरी भी 10वें चक्कर में गश खाकर गिरा था। उसे भी जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उसका इलाज चल रहा है। रजनीश बस्ती के वाल्टर गंज का निवासी है।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: