Advertisment
DELHI

Online Sex racket Busted in new Delhi: जिस्मफरोशी का ऑनलाइन धंधा करने वालों का पर्दाफाश , नाबालिग लड़की को बचाया, 4 गिरफ्तार

Advertisment


राजौरी गार्डन
राजौरी गार्डन पुलिस ने दो महिलाओं समेत चार आरोपियों को जिस्मफरोशी का ऑनलाइन सिंडिकेट चलाने के आरोप में गिरफ्तार कर अगवा नाबालिग लड़की को रेस्क्यू कराया है। दो महीने पहले नाबालिग को दो लोगों ने अगवा किया और चारों आरोपियों के हवाले कर दिया। आरोपी एक्सकॉर्ट सर्विस के करीब 150 वाट्सऐप ग्रुप में हैं। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान मजनू का टीला निवासी 35 वर्षीय संजय राजपूत, यूपी के मुरादाबाद निवासी 21 वर्षीय अंशू शर्मा, मुजफ्फरनगर निवासी 24 वर्षीय सपना गोयल और मजनू का टीला निवासी 28 वर्षीय कनिका रॉय के तौर पर हुई है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। आरोपियों के पास से 5 मोबाइल फोन बरामद हुए हैं।

2 महीने पहले किया था नाबालिग लड़की का अपहरण
डीसीपी उर्विजा गोयल के मुताबिक, 22 जनवरी को एक पिता ने कंप्लेंट दी कि उनकी नाबालिग बेटी को किसी ने अगवा कर लिया है। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए तुरंत केस दर्ज किया। लड़की की तलाश में एक टीम लगाई गई। टीम ने परिवार के जानकारों, रिश्तेदारों और संभावित ठिकानों पर छानबीन की। जब लड़की नहीं मिली तो ह्यूमन ट्रैफिकिंग के एंगल को ध्यान में रखते हुए तफ्तीश शुरू की। इनपुट मिला कि लापता लड़की को किसी नेशनल एस्कॉर्ट सप्लायर्स के गिरोह ने अगवा किया। जिसके आधार पर संभावित ठिकानों पर छापेमारी की गई। दो महीने की कड़ी मशक्कत के बाद टीम ने दिल्ली के मजनू का टीला में अपहृत लड़की की सही लोकेशन को ट्रैक कर लिया। रात भर तलाशी, ट्रैप और जानकारी इकट्ठा होने के बाद टीम ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर नाबालिग लड़की को रेस्क्यू कराया।

वाट्सऐप ग्रुप के जरिए करवाते थे जिस्मफरोशी का धंधा
जांच में पता चला कि आरोपी कई एक्सकॉर्ट सर्विस के लिए वाट्सऐप ग्रुप ऑपरेट करते हैं। जहां वे उस नाबालिग की तस्वीरों को पोस्ट करते थे। नाबालिग ने बताया कि घटना वाले दिन जब वह अपने लिए चिप्स के पैकेट खरीदने के लिए पास की एक दुकान पर गई, तो उसे दो लोगों ने अगवा कर लिया। उसे आरोपी अपने घर पर ले गए। जहां आरोपियों ने पहले बर्थ-डे सेलिब्रेट किया और केक खिलाया। जिससे वह बेहोश हो गई। उसे संजय, अंशु शर्मा, सपना गोयल और कनिका रॉय नाम के चारों आरोपियों को सौंप दिया। वे उसे टॉर्चर करते थे और उसे जबरदस्ती नशीली गोलियां भी दी जाती थीं। फिर उसे जिस्मफरोशी कराई जाती थी। आरोपियों ने कई बार फाइव स्टार होटल में उसे कस्टमर के हवाले भी किया।

Advertisment
Show More
Advertisment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Advertisment