BIHAR

rupesh murder case update: Patna me rupesh murder case me bada update ek aropi ne kia surrender : इंडिगो स्टेशन हेड रूपेश हत्याकांड में एक आरोपी ने किया सरेंडर भाग गया था दिल्ली

पटना
राजधानी पटना में हुए इंडिगो स्टेशन हेड रूपेश कुमार सिंह की हत्या के मामले में बड़ा अपडेट (Rupesh Murder Case Latest Update) सामने आया है। इस मर्डर केस के एक आरोपी ने सोमवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया। पुलिस ने बताया कि आरोपी पुष्कर उर्फ छोटू का नाम मामले में सामने आया था। वारदात के बाद से वह फरार था और लगातार अपनी लोकेशन चेंज कर रहा था। हालांकि, पुलिस टीम (Bihar Police) की लगातार छापेमारी और बढ़ते दबाव की वजह से आखिरकार आरोपी ने आत्मसमर्पण कर दिया।

आरोपी पुष्कर उर्फ छोटू ने किया सरेंडर, न्यायिक हिरासत में भेजा गया
पुलिस ने बताया कि सरेंडर बाद में आरोपी पुष्कर उर्फ छोटू को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। इससे पहले, दो आरोपी – ऋतुराज और सौरभ उर्फ पवन को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। पटना एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि कि आरोपी सौरभ को पूछताछ के लिए 72 घंटे के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। वहीं इस मामले के जांच अधिकारी ने पुष्कर को भी रिमांड पर लेने की बात कही है। एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने कहा, ‘सौरभ और पुष्कर से पूछताछ के बाद पुलिस को इस मामले में किसी तार्किक निष्कर्ष पर पहुंचने में मदद मिलेगी।

इसे भी पढ़ें:- दोस्ती के लिए चलाई थी गोली, दिल्ली से पटना लौटते ही रूपेश सिंह हत्याकांड का एक और शूटर गिरफ्तार
12 जनवरी को हुई थी रूपेश की हत्या
इसी साल 12 जनवरी को पुनाईचक स्थित कुसुम विलास अपार्टमेंट के गेट पर रूपेश सिंह को अपराधियों ने गोलियों से भून डाला था। इसमें मुख्य आरोपी ऋतुराज ने खुलासा किया था कि रूपेश की हत्या एक रोड रेज की घटना के चलते की गई थी। पुलिस ने चौथे आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी तेज कर दी है। जांच से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पुलिस सौरभ उर्फ पवन के साथ ऋतुराज के बयान की जांच करेगी। उन्होंने दावा किया कि पुलिस के पास आरोपियों के खिलाफ सबूत हैं।

रुपेश हत्याकांड : पुलिस के खुलासे पर ब्रह्मर्षि समाज के तेवर कड़े, पूछा- बिना सबूत कैसा खुलासा?

मर्डर केस में ऋतुराज और सौरभ पहले ही हो चुके हैं अरेस्ट
27 मार्च को, एसीजेएम ने आरोपी ऋतुराज की जमानत याचिका को खारिज कर दिया था। ऋतुराज वर्तमान में बेउर जेल में बंद है। इससे पहले पटना एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया था कि सौरभ उर्फ पवन ने भी कबूल किया कि उसने भी रूपेश सिंह के ऊपर गोली चलाई थी। 2018 में पवन पर आर्म्स एक्ट के दो केस बिहटा और नौबतपुर थाने में दर्ज हुए थे। पहले भी वो जेल जा चुका है। रितुराज की गिरफ्तारी के करीब 50 दिन बाद पुलिस ने पवन को पकड़ा था। पवन को गिरफ्तार करने वाली टीम की मानें तो रूपेश सिंह की हत्या के बाद 10 दिनों तक पवन पटना में ही रहा था। रितुराज की गिरफ्तारी होने के बाद वो फरार हो गया था।

53

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: