MERATH

uttar pradesh panchayat chunav 2021: up panchayat chunav 2021: first phase polling in west up key points : यूपी पंचायत चुनाव 2021: पहले चरण में वेस्ट यूपी के 6 जिलों में वोटिंग, खास बातें

शादाब रिजवी, मेरठ
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर वेस्ट यूपी में कमान खिंच गई है। सियासी योद्धा मैदान में कूद गए हैं। पहले फेज के छह जिलों सहारनपुर, गाजियाबाद, रामपुर, बरेली, हाथरस, आगरा में नामांकन की प्रक्रिया रविवार को पूरी होने के बाद अब मतदान 15 अप्रैल को होगा। इसी के साथ दूसरे फेज की तैयारी में दावेदार जुट गए हैं। वेस्ट यूपी के दस जिलों मुजफ्फरनगर, बागपत, गौतम बुद्ध नगर, बिजनौर, अमरोहा, बदायूं, एटा, मैनपुरी, कन्नौज, इटावा में बुधवार से नामांकन भरने के लिए सियासी संग्राम छिड़ेगा।

पहले फेज के लिए नामांकन पत्रों की पड़ताल सोमवार को शुरू हो गई, जो मंगलवार को भी जारी रहेगी। बुधवार तीन बजे तक नामांकन वापस लिए जा सकेंगे। बुधवार को ही तीन बजे के बाद चुनाव चिह्न बांटे जाएंगे।

रिश्वत में रसगुल्ले, दावेदार का साला अरेस्ट
अमरोहा पंचायत चुनाव मतदाताओं को रिझाने की होड़ लगी है। जिले के गांव रुखालू में प्रधान पद के दावेदार ने गांव में रसगुल्ले बांटने की रणनीति बनाई, लेकिन पुलिस ने उसे नाकाम कर दिया। पुलिस के छापे में प्रधान पद का दावेदार भाग निकला लेकिन उसके साले को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक प्रधान पद के दावेदार का नाम चंद्रसेन है। पुलिस ने मौके से एक-एक किलो के रसगुल्ले के 100 पैकेट बरामद किए हैं।

इन जिलों में बुधवार से बजेगा बिगुल
वेस्ट यूपी के दस जिलों मुजफ्फरनगर, बागपत, गौतम बुद्ध नगर, बिजनौर, अमरोहा, बदायूं, एटा, मैनपुरी, कन्नौज, इटावा में बुधवार से जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत सदस्य के लिए नामांकन हर जिले और ब्लॉक में भरे जा सकेंगे। जिला पंचायत के जिला स्तर पर और ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य और क्षेत्र पंचायत सदस्य के नामांकन ब्लॉक स्तर पर भरे जाएंगे। दूसरे फेज में 7 और 8 अप्रैल को नामांकन होंगे। वोटिंग 19 अप्रैल को होगी।

2010 वाले चुनाव चिह्न रिपीट

त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों में प्रत्याशियों के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने चुनाव चिह्न की सूची जारी की है। उम्मीदवारों को चिह्न चुनने का विकल्प नहीं मिलेगा। पहले नाम के अक्षर से चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाएंगे। इस बार के पंचायत चुनाव में 2010 में जारी चुनाव चिन्ह का ही प्रयोग होगा। बीडीसी सदस्य पद के प्रत्याशियों को 36, जिला पंचायत सदस्य पद के लिए 45 निशानों का विकल्प होगा। हाथरस जिले से सीडीओ आरबी भास्कर के मुताबिक मत पत्र सभी जिलों में आ चुके हैं। प्रधान पद के प्रत्याशी तोप, त्रिशूल, खड़ाऊं जैसे चिह्न मिलेंगे। जिला पंचायत सदस्य के दावेदारों के लिए आरी, गिलास, कैंची जैसे चिह्न होंगे। बीडीसी सदस्य पद के उम्मीदवारों को तलवार और शहनाई जैसे चुनाव चिह्न मिलेंगे।

छोटे चुनाव में बड़ों की दस्तक
वेस्ट यूपी के हाथरस में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सदस्य ही नहीं क्षेत्र पंचायत सदस्य के चुनाव में भी बड़े परिवारों के लोग दावेदार बने है। रविवार को नामांकन के अंतिम दिन के रिकॉर्ड के मुताबिक सासनी ब्लॉक में बीडीसी का पर्चा भरने के दौरान सांसद राजवीर दिलेर की बेटी डॉक्टर पूनम ने वॉर्ड संख्या 6, विधायक हरीशंकर माहौर के बेटे दिनेश माहौर, बहू प्रतिभा माहौर ने वॉर्ड संख्या 43, पूर्व विधायक गेंदालाल चौधरी की पत्नी कुसुम चौधरी ने वॉर्ड संख्या 75 ने पर्चे भरे।

सत्ताधारी दल के नेताओं के परिजनों के चुनाव में उतरने से चर्चाएं शुरू हो गई हैं। हाथरस जिला पंचायत सदस्य वॉर्ड 14 की सीट हॉट बन गई है। यहां पूर्व मंत्री और सादाबाद विधायक रामवीर उपाध्याय, उनके छोटे भाई मुकुल की पत्नियां आमने-सामने हैं। यानी देवरानी और जेठानी में जंग होगी। नामांकन के आखिरी दिन बीजेपी नेता डॉक्टर अविन शर्मा की पत्नी ने भी पर्चा भरा।

जिले जिला पंचायत सीट इतने नामांकन

सहारनपुर 49 पद 611 नामांकन

बरेली 60 पद 958 नामांकन

रामपुर 34 पद 589 नामांकन

Related Articles

हाथरस 24 पद 322 नामांकन

आगरा 51 पद 667 नामांकन

गाजियाबाद 14 पद 239 नामांकन

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: